अधिकारियों के हाथों विदा हुई दुल्हन नहीं पहुंच पाई अपने साजन के घर

यूथ इंडिया टाइम्स
By -
0

सामूहिक विवाह योजना में सरकारी लाभ लेने के लिए हुआ बड़ा फर्जीवाड़ा
रामपुर। सामूहिक विवाह के बाद दुल्हनें साजन के घर नहीं पहुंची। काजी भी निकाह पढ़ाने के नाम पर दिखावा किया। इसलिए निकाह को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं। सामूहिक विवाह योजना में सरकारी लाभ लेने के लिए फर्जीवाड़ा किया गया। कई मामले पकड़ में आ चुके हैं। अधिकारी जांच कराने की बात कह रहे हैं।
मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत सरकार आर्थिक रूप से गरीब लड़कियों की सरकारी खर्च पर शादी कराई जाती है। लेकिन महत्वकांक्षी योजना को फर्जीवाड़े की दलदल में धकेल दिया। आगापुर बाईपास स्थित एक वैंक्टहाल में 6 और 7 फरवरी को सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया था। दो दिन में हिंदू और मुस्लिम 1002 जोड़ों का विवाह कराने का दावा किया जा रहा है। सरकारी विवाह के बाद भी कोई दो सप्ताह बाद तो कोई महीने भर बाद विवाह करने जा रहा है। तमाम जोड़ों की तो काफी समय पहले शादी भी हो चुकी है। इसके बाद भी उनके हाथों मे विवाह का सर्टिफिकेट और गिफ्ट थमा दिए । विवाह के नाम पर फर्जीवाड़े के कई मामले पकड़ आ चुके हैं।

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)